Shayari

जहा जाए वहा दास्ताँ है हमारी

जहा जाए वहा दास्ताँ है हमारी

  Hindi Shayari   अगर ख़िलाफ़ हैं होने दो जान थोड़ी है ये सब धुआँ है कोई आसमान थोड़ी है इनकी नहीं चलती कही भी हम जहा जाए वहा दास्ताँ है हमारी Agar Khilaaf hai hone do jaan thodi hai Yeh sab dhuaa hai Koi aasmaan thodi hai Inki nahi chalti kahi bhi Hum jaha …

जहा जाए वहा दास्ताँ है हमारी Read More »

Hontho pe Chingaari Rakho

Hontho pe Chingaari Rakho

Attitude Shayari   Aankh mein paani rakho, hontho pe chingaari rakho Zinda rahana hai to tarakiben bahut saari rakho Yaha Sab Paraye hai Ghar ka dhyan Rakho aur  Rab se eitbaar karo.   आँख में पानी रखो, होंठो पे चिंगारी रखो ज़िंदा रहना है तो तरकीबें बहुत सारी रखो यहाँ सब पराये है घर का …

Hontho pe Chingaari Rakho Read More »

Raasta Dikhaya Chaand Ne

Raasta Dikhaya Chaand Ne

Chaand Shayari    Hasin yaadon ke Chaand ko alvida kah kar Main apne ghar ke andhere kamaron mein laut aaya Itni roshni bikherata hai Raat mein na jaane Kitno Logo Ko Raasta Dikhaya Chaand Ne    हसीं यादों के चाँद को अलविदा कह कर मैं अपने घर के अन्धेरेह कमरों में लौट आया इतनी रौशनी …

Raasta Dikhaya Chaand Ne Read More »

Sath Diya

Sath Diya

Love Shayari    Tamaam umar tera intezaar kiya Is intezaar mein na jaane kis kis se pyaar kiya Hu Tera aur tera hi raha  na jaane safar par kitno ne sath diya   तमाम उम्र तेरा इंतज़ार किया इस इन्तिज़ार में न जाने किस किस से प्यार किया हु तेरा और तेरा ही रहा   …

Sath Diya Read More »

Dosti Shayari

लोग रूप देखते है ,हम दिल देखते है ,लोग सपने देखते है हम हक़ीकत देखते है,लोग दुनिया मे दोस्त देखते है,हम दोस्तो मे दुनिया देखते है। कहीं अंधेरा तो कहीं शाम होगी,मेरी हर ख़ुशी तेरे नाम होगी, कभी मांग कर तो देख हमसे ए दोस्त, होंठो पर हसीं और हथेली पर जान होगी। हर मोड़ …

Dosti Shayari Read More »

Attitude Shayari

दिल में मोहब्बत का होना ज़रूरी है, वरना याद तो रोज दुश्मन भी किया करते हैं। अक्सर वही लोग उठाते हैं हम पर उँगलियाँ, जिनकी हमे छुने की औकात नहीं होती। दुश्मनों को सज़ा देने की एक तहज़ीब है मेरी, मैं हाथ नहीं उठाता बस नज़रों से गिरा देता हूँ। जहाँ कदर न हो अपनी …

Attitude Shayari Read More »

Ghalib Shayari

हम रहें यूँ तश्ना-ऐ-लब पैगाम केखत लिखेंगे गरचे मतलब कुछ न होहम तो आशिक़ हैं तुम्हारे नाम केइश्क़ ने “ग़ालिब” निकम्मा कर दियावरना हम भी आदमी थे काम के हो चुकीं ‘ग़ालिब’ बलायें सब तमाम ,एक मर्ग -ऐ -नागहानी और है . देके खत मुँह देखता है नामाबर ,कुछ तो पैगाम -ऐ -ज़बानी और है बारह देखीं …

Ghalib Shayari Read More »

Love Shayari

हम तुम्ही हर रोज याद करत है तीन वक़्त की दावा की तरहा Duniya kai maslo mai aisa tanz kassa hai Phir bhi koi toh pyaar mai fassa hai Humari toh zindagi ban jaye unkai Milne sai Humari sir bas unkai pyaar ka naasha hai I promise you I will never hate uh You whatever …

Love Shayari Read More »

Ghalib shayari

ham ko ma.alūm hai jannat kī haqīqat lekin dil ke ḳhush rakhne ko ‘ġhālib’ ye ḳhayāl achchhā hai ishq ne ‘ġhālib’ nikammā kar diyā varna ham bhī aadmī the kaam ke hazāroñ ḳhvāhisheñ aisī ki har ḳhvāhish pe dam nikle bahut nikle mire armān lekin phir bhī kam nikle un ke dekhe se jo aa …

Ghalib shayari Read More »